Press "Enter" to skip to content

छत्तीसगढ़: एंबुलेंस की जगह ट्रकों में भरकर लाए जा रहे 10 शव…देखें तस्वीरें

रायपुर। कोरोना महामारी को मजाक में न लें। संक्रमण की दूसरी लहर ने तबाही मचानी शुरू कर दी है। दो गज की दूरी, हाथों को सैनिटाइज करना और मास्क लगाना बंद न करें। राजधानी रायपुर में आलम यह हो गया है कि अस्पतालों से कोरोना के मरीजों को श्मशान ले जाने के लिए एंबुलेंस कम पड़ गईं हैं। मरीजों को अस्पताल पहुंचाने के लिए ही एंबुलेंस पर्याप्त नहीं हो पा रही हैं।

ऐसे में नगर निगम ने दो ट्रकों को मुक्तांजलि वाहन बनाया है। ट्रकों में एक साथ आंबेडकर अस्पताल से 10-10 शव भरकर ले जाए जा रहे हैं। श्मशान घाटों में लाशों को जलाने के लिए जगह कम पड़ रही है। ऐसे में नवा रायपुर के नवागांव मुक्तिधाम में कोरोना संक्रमण की वजह से मरने वाले लोगों के शवों को लेकर जाया जा रहा है। बताते चलें कि छत्तीसगढ़ में लाख कोशिशों के बाद भी कोरोना की रफ्तार कम नहीं हो रही है।

बुधवार को प्रदेश में 14, 250 संक्रमित पाए गए। 24 घंटे में कुल 120 कोरोना मरीजों की जान गई, जिसमें प्रदेश की राजधानी रायपुर में 3960 कोरोना के पॉजिटिव केस सामने आए हैं। कुल संक्रमितों का आंकड़ा एक लाख 9,975 पहुंच गया है। रायपुर के बाद दुर्ग में 1647 और राजनांदगांव में 1254 नए मरीज मिले हैं।

बिलासपुर में 923 और कोरबा में 741 मरीज पाए गए हैं। रायपुर में सर्वाधिक 33 और दुर्ग में 11 लोगों की मौत कोरोना से हुई। प्रदेश में मौत का कुल आंकड़ा 5,307 पहुंच गया है। देश में छत्तीसगढ़ महाराष्ट्र के बाद दूसरे स्थान पर है। मौत के लगातार आंकड़े बढ़ रहे हैं।पिछले नौ दिनों में 868 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

More from रायपुरMore posts in रायपुर »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *