Press "Enter" to skip to content

220 करोड़ की बेनामी संपत्ति का हुआ खुलासा…विधानसभा चुनाव से पहले टाइल्स कंपनी में आयकर विभाग का छापा

चेन्नई: आयकर विभाग (Income Tax) ने टाइल्स और सैनेटरीवेयर निर्माण एवं बिक्री से जुड़े तमिलनाडु के एक समूह के ठिकानों पर छापा मारकर करीब 220 करोड़ रुपए की बेनामी आय का पता लगाया है. केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने यह जानकारी दी. उसने बताया कि ये छापे 26 फरवरी को तमिलनाडु, गुजरात और कोलकाता में कुल 20 स्थानों पर मारे गए. सीबीडीटी ने एक बयान में कहा कि टाइल्स और सैनेटरीवेयर का निर्माण और बिक्री करने वाले एक समूह के ठिकानों पर छापे के दौरान 8.30 करोड़ रुपए जब्त किए गए हैं. यह दक्षिण भारत में टाइल्स के कारोबार का ‘‘प्रमुख” समूह है.

इसे भी पढ़े: एक हफ्ते में 45 रुपए महंगा हुआ सिलेंडर: गैस सिलेंडर के दाम फिर 25 रु बढ़े…शहर में 860 में मिल रहा…दो माह में 150 तक वृद्धि

बयान में दावा किया गया, ‘‘छापे के दौरान पाया गया कि टाइल्स की खरीद और बिक्री का कोई लेखा-जोखा नहीं है. ऐसे लेन-देन, जिनका कहीं लेखा जोखा नहीं है, उसका पता क्लाउड के सॉफ्टवेयर के जरिए लगाया गया.” बयान में कहा गया कि छापे के दौरान पाया गया कि 50 प्रतिशत लेन देन का कोई रिकॉर्ड नहीं है.

इसे भी पढ़े: चिटफंड धोखे में डूबा गांव: 450 परिवारों में 395 परिवारों के लाखों रुपए डूबे…किसी को नहीं मिले पैसे वापस

सीबीडीटी ने कहा, ‘‘अब तक कुल 220 करोड़ बेनामी आय का पता लगा है.” शनिवार देर रात जारी बयान में कहा गया कि छापे की कार्रवाई अभी चल रही है. 

इसे भी पढ़े: श्रमजीवी एक्सप्रेस के इंजन में लगी आग…सभी यात्री सुरक्षित

कर विभाग के लिए नीति निर्माण करने वाले सीबीडीटी ने कहा कि वह मतदाताओं को लुभाने के लिए धन के इस्तेमाल पर रोक लगाने और इस पर निगरानी रखने के लिए पूरी तरह से तैयार है. विभाग ने कहा कि वह इस बात का पता लगाने के लिए प्रतिबद्ध है कि तमिलनाडु और पुडुचेरी में बेनामी नकदी का स्रोत क्या है और इसे कहां भेजा जाता है. तमिलनाडु और पुडुचेरी में छह अप्रैल को विधानसभा चुनाव होने हैं.

इसे भी पढ़े: दुनिया के सबसे अमीर देश अमेरिका ने भारत से लिया 15 लाख करोड़ से अधिक का कर्ज…चीन और जापान भी कर्जदाता

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *