रायपुर

छत्तीसगढ़ सनातन दशनाम गोस्वामी समाज ने धूमधाम से मनाया भगवान आद्य गुरु शंकराचार्य जयंती समारोह

रायपुर। दुनिया में सनातन के मान सम्मान में सबसे बड़ा योगदान आद्य गुरु शंकराचार्य जी का है । महज आठ वर्ष की अल्प आयु में ही उन्हें सभी वेदों का ज्ञान हो गया था, और उसके बाद उन्होंने पूरे देश का भ्रमण कर चार पीठों की स्थापना की। ये वो दौर है जिसमें वास्तव में सनातन का पुनरुद्धार हुआ था। उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने ये बातें रविवार को रायपुर के शहीद स्मारक में छत्तीसगढ़ सनातन दशनाम गोस्वामी समाज द्वारा आयोजित आद्य गुरु शंकराचार्य जयंती कार्यक्रम में कही।

उपमुख्यमंत्री अरुण साव ने कहा कि, मुगलों और अंग्रेजों की गुलामी के समय सनातन के तेज में जो कमी आई थी, वो 22 जनवरी 2024 को दूर हुई है। अयोध्या में 22 जनवरी को श्री राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा हुई, इसके बाद दुनिया में एक बार फिर सनातन का डंका बजा ।उन्होंने कहा कि हम सबको सनातन पर विचार करने की आवश्यकता है। आज हम आदि गुरु शंकराचार्य का अवतरण दिवस मना रहे हैं। उन्होंने जिन उद्देश्यों को लेकर अपने जीवन को समर्पित कर पूरे देश का भ्रमण किया। आज उनके किए हुए काम को और आगे बढ़ाने की जरूरत है। आज सनातन का जो स्वरूप होना चाहिए था ,आदि गुरु शंकराचार्य सनातन का जैसा स्वरूप चाहते थे, वह स्वरूप आज भी नहीं आया है। इसलिए उनके कामों को आगे बढ़ाने का काम हम सबको करना पड़ेगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि, आदि गुरु शंकराचार्य ने जो रास्ता दिखाया है, आज उस पर आगे बढ़ने की आवश्यकता है। उन्होंने इतने कम समय में बड़ा काम किया। सनातन के पुनरुद्धार और पुनर्स्थापित करने का काम हम सबको करना पड़ेगा। गोस्वामी समाज ने मेहनत और ताकत के दम पर हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। युवक-युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसके किए समाज के सभी लोगों को बधाई देता हूं। वहीं समाज का गौरव बढ़ाने वाले सभी प्रतिभाओं का भी सम्मान की हार्दिक बधाई।

उप मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री विजय शर्मा ने गोस्वामी समाज की सराहना करते हुए कहा कि यह समाज हमेशा से अध्यात्म का संवाहक रहा है। इसे भगवान शंकर का अंश होने का वरदान प्राप्त है। आप सभी के बीच आकर मै धन्य हो गया हूं। भगवान आद्य जगतगुरु शंकराचार्य जयंती उत्सव का आयोजन छत्तीसगढ़ सनातन दसनाम गोस्वामी समाज छत्तीसगढ़ रायपुर, पंजीयन क्रमांक 1657 के तत्वावधान में रायपुर के हृदय स्थल, शहीद स्मारक भवन में संपन्न हुआ।

कार्यक्रम में अतिथि के रूप मे छत्तीसगढ़ के उप मुख्यमंत्री व गृहमंत्री विजय शर्मा, उप मुख्यमंत्री अरूण साव, विधायक रायपुर मोतीलाल साहू, महामंडलेश्वर व पिठाधिश्वर दुधाधारी मठ महंत डॉ रामसुंदर दास जी महाराज, राष्ट्रीय अध्यक्ष, अखिल भारतीय गोस्वामी समाज दिल्ली डॉ महेश गिरी जी महाराज, राष्ट्रीय अध्यक्ष गोस्वामी महासभा दिल्ली, महंत श्री सच्चिदानंद गिरी जी महाराज, राजस्थान गोस्वामी समाज के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल भारती जी विशेष रूप से उपस्थित थे।

कार्यक्रम जगदगुरु शंकराचार्य जी के छाया चित्र में पुजा अर्चना मंत्रौचार पशचात प्रारंभ हुआ। इस मौके पर गोस्वामी समाज की महिलाएं एवं पुरुष भगवा वस्त्र धारण कर जयंती उत्सव में शामिल हुए। बाईक से सामाज के युवाओं ने भव्य शोभा यात्रा निकाली। मातृ दिवस के अवसर पर महिलाओं का सम्मान किया गया। महंत और अतिथियों का सम्मान श्रीफल एवं भगवा गमछा से किया गया। साथ ही इस खास मौके पर समाज की विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। विवाह योग्य युवक युवती परिचय देकर बुजुर्गों से आशीर्वाद लिया।

कार्यक्रम क़ो सफल बनाने मे महंत राजेश भारती अहिवारा हर भुषण गिरी पवनी गजानंद बन गुढियारी विनोद पुरी टिंगीपुर सुरेन्द्र पुरी सोरर चितांमणि धारा शिव विनोद पूरी देमार अखिलेश पुरी कोहडिया कुमार गिरी सिल ली आदेश गिरी पुतकी उमेश्वर पुरी पंधी राघवैन्द गिरी खरौद महेश गिरी मारो संस्थापक एवं संरक्षक गन चित्रसेन गिरी लिल्लार पुरी नंदकुमार पुरी कुबेर प्रकाश गिरी योगेंद्र पुरी जगदीश भारती नारायण गिरी ओकांर पुरी प्रदेश अध्यक्ष प्रभाकर बन राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेन्द्र अयोध्या पुरी जिलाअधयक्ष वेद पुरी प्रदेश सचिव दिनेश पुरी प्रदेश कोषाध्यक्ष सुधिर बन जिला कोषाअधयक्ष योगेन्द्र पुरी जिला सचिव सचिन पुरी प्रदेश उपाध्यक्ष महेन्द्र भारती गोस्वामी राज गोस्वामी रुद्राक्ष गोस्वामी का सरहानीय योगदान रहा। मंच संचालन प्रांतीय उपाधयक्ष नरेन्द्र पुरी ने किया व आभार प्रदर्शन जिला अध्यक्ष रायपुर वेदपुरी ने किया।

कार्यक्रम के आयोजक छत्तीसगढ़ के समस्त महंत गण, संस्थापक सदस्य, संरक्षक गण, प्रांतीय कार्यकारिणी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गण, छत्तीसगढ़ के समस्त जिला अध्यक्ष एवं समस्त पदाधिकारियों की उपस्थिति और मार्गदर्शन में यह भव्य आयोजन सफल हुआ। समस्त जिलों से आए हुए गोस्वामी बंधुओं ने तन मन धन से कार्यक्रम को सफल बनाने में एकता परिचय दिया। समाज के समस्त भाईयों, बहनों, माताओं, युवा साथियों एवं प्यारे बच्चों सभी के सहयोग एवं योगदान से कार्यक्रम सफल हुआ। आयोजक मंडल सहित प्रदेश अध्यक्ष प्रभाकर कृष्ण बन और रायपुर जिला अध्यक्ष वेद पुरी गोस्वामी ने सभी का आभार प्रकट करते हुए भविष्य में भी इसी प्रकार के सहयोग और एकता की अपेक्षा की है।

Related Articles