Press "Enter" to skip to content

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला मुख्यालय बलौदा बाजार में शुक्रवार को 500 बिस्तर नए कोविड अस्पताल का वर्चुअल शुभारंभ किया

बलौदाबाजार। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला मुख्यालय बलौदा बाजार में शुक्रवार को 500 बिस्तर नए कोविड अस्पताल का वर्चुअल शुभारंभ किया। इसके साथ ही जिले की सरकारी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए बिस्तर की सुविधा बढक़र 1320 हो गई है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम बहुत जल्द कामयाब होंगे। आम जनता के सहयोग से जनप्रतिनिधि व अधिकारी आपसी तालमेल के साथ संगठित होकर यह लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कोरोना के समूल नाश होते तक कोविड की गाइडलाइन का आवश्यक रूप से पालन करने की अपील भी की है। रिकार्ड 20 दिन के अल्प समय में सर्वसुविधायुक्त विशाल अस्पताल तैयार करने के लिए जिला प्रशासन को टीम को बधाई दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण व जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव ने की। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण की गति हमें और तेज करनी होगी। पहला टीका लगा चुके लोगों को निर्धारित समय आने पर दूसरा टीका अवश्य लेना चाहिए।

रिमोट दबाकर किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री बघेल ने राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से रिमोट बटन दबाकर जिला मुख्यालय बलौदा बाजार के नई मंडी परिसर में निर्मित कोविड अस्पताल का औपचारिक शुभारंभ किया और कोरोना से परेशान हो रहे जिले की जनता को इलाज के लिए 500 बिस्तर की अतिरिक्त सुविधा प्रदान की। कोरोना पीडि़त लोगों का यहां पर मुफ्त में इलाज किया जाएगा। कलेक्टर ने अस्पताल निर्माण की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुए कार्यक्रम में जुड़े सभी अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल के तैयार हो जाने से हम मरीजों को अपने जिले में ही रखकर इलाज करने में सक्षम हो गए है। जरूरत पडऩे पर आसपास के जिलों के मरीजों का भी इलाज यहां किया जा सकता है।

सहयोग के लिए दानदाताओं को दिया धन्यवाद

अस्पताल का निर्माण जिले की जनप्रतिनिधियों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों, समाजसेवी और दानदाताओं के सहयोग के साथ डीएमएफ की राशि मिलाकर की गई हैं। मुख्यमंत्री ने उदार सहयोग के लिए सभी दानदाताओं को धन्यवाद भी दिया है। गौरतलब है कि 500 बिस्तर के इस अस्पताल में 120 बिस्तर में ऑक्सीजन की सुविधा है, 320 बिस्तर कोरोना के सामान्य किस्म के मरीजों के लिए है। 13 डॉक्टरों की टीम यहां दिन-रात तैनात रहेगी। उनके रहने की भी व्यवस्था की गई है। लगभग 150 की संख्या में पैरामेडिकल स्टाफ यहां काम करेगी। मानसिक चिंता और अवसाद की स्थिति से बचाने और उनकी काउंसिलिंग के लिए मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. राकेश प्रेमी को प्रभारी बनाया गया है। भारी गर्मी को देखते हुए अस्पताल को पूर्णत: वातानुकूलित बनाया गया है। चौबीसों घंटे यहां एम्बुलेंस तैनात होगी। बहुत अच्छी यहाँ पार्किंग की व्यवस्था है। सम्पूर्ण गतिविधियों की सीसीटीवी के जरिए मॉनिटरिंग की जाएगी।

More from छत्तीसगढ़More posts in छत्तीसगढ़ »
More from बलौदाबाजारMore posts in बलौदाबाजार »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *