Press "Enter" to skip to content

छत्तीसगढ़ में कोरोना LIVE:सप्ताह में तीसरी बार नए मरीजों से अधिक लोगों ने दी कोरोना को मात; 16188 लोग ठीक हुए, लेकिन एक दिन में 183 मौतों ने बढ़ाई चिंता

[22/04, 11:30 am] Mahi: छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 14,519 नए संक्रमित मिले हैं जबकि इससे ज्यादा 16,188 मरीजों ने संक्रमण को मात दी है। सप्ताह में ऐसा तीसरी बार हुआ है, जब ठीक होने वालों की संख्या संक्रमित होने वालों की संख्या से अधिक हुई है। कुछ जिलों में संक्रमण की रफ्तार भी कम होती दिख रही है। इससे पहले इसी सप्ताह 20 अप्रैल को 15,625 नए मरीज मिले थे जबकि 15,830 लोग ठीक हुए थे। वहीं, 18 अप्रैल को 12,345 नए मरीजों की तुलना में ठीक होने वालों की संख्या 14,075 थी। प्रदेश में अब तक 5,88,818 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 4,59,600 लोग ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में प्रदेश में 1,22,751 मरीजों का अस्पतालों और होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है।

एक दिन में 183 मौत ने बढ़ाई चिंता

स्वास्थ्य विभाग को अब अधिक संख्या में हो रही मौतों की चिंता हो रही है। बुधवार को 183 मौतों का आंकड़ा आया था, जिनमें से अकेले रायपुर जिले में 67 मौतें हैं। इससे एक दिन पहले 20 अप्रैल को 181 मौतें हुई थी। जबकि 19 अप्रैल को 165 मौतों की जानकारी सामने आई थी। पिछले एक सप्ताह में बुधवार को सबसे अधिक मौतों का आंकड़ा आया है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि ऐसा मरीज के काफी गंभीर अवस्था में अस्पताल पहुंचने की वजह से हो रहा है।

प्रदेश में रोजाना 20 हजार तक मरीज मिलने का अनुमान

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री TS सिंहदेव ने बताया है, विशेषज्ञों का अनुमान है कि कोरोना से छत्तीसगढ़ के 18 लाख लोग संक्रमित हो सकते हैं। टेस्ट की संख्या बढ़ेगी तो मरीजों की संख्या भी बढ़ जाएगी। स्वास्थ्य विभाग अभी एक दिन में 50 हजार टेस्ट कर रहा है। इसे 60 हजार से 70 हजार टेस्ट प्रतिदिन करने की तैयारी चल रही है। ऐसा हुआ तो औसतन 20 हजार नये मामले रोज आएंगे। अभी की तरह अगर एक % भी मृत्यु होती है तो रोज औसतन 200 लोगों की जान जा सकती है।
[22/04, 11:31 am] Mahi: ऑक्सीजन सुविधा वाले 13 हजार बिस्तर जुटाने की कवायद

राज्य सरकार पूरे प्रदेश में ऑक्सीजन की सुविधा वाले 13 हजार बिस्तर बनाने की तैयारी में जुटी है। इसमें से अभी 6 हजार बिस्तरों में ही ऑक्सीजन की सुविधा दी जा सकी है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया, प्रदेश में ऑक्सीजन का पर्याप्त उत्पादन है। लेकिन हमारे पास जंबो सिलेंडर नहीं हैं। इसकी वजह से अधिकतर बेड को पाइपलाइन से नहीं जोड़ पा रहे हैं। केंद्र सरकार और निजी एजेंसियों से इसके लिये मदद मांगी गई है।

स्वास्थ्य विभाग ने 296 डॉक्टरों को संविदा पर रखा

सरकार ने MBBS पाठ्यक्रम पूरा कर चुके 296 डॉक्टरों को 2 वर्ष की संविदा पर नियुक्त किया है। चिकित्सा शिक्षा संचालनालय ने इन डॉक्टरों की सूची 13 अप्रैल को भेजी थी। प्रदेश के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में जरूरतों का आकलन करने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार शाम को इनकी नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया। सभी को 10 दिनों के भीतर जॉइन करने को कहा गया है। कोरोना काल में इन डॉक्टरों के मिल जाने से सरकारी अस्पतालों में मैन पावर की कमी दूर होगी।

आज नगर निगमों की समीक्षा करेंगे मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज नगर निगमों के महापौर और नगर आयुक्तों के साथ एक वर्चुअल बैठक करने वाले हैं। इसमें नगर निगमों में कोरोना प्रबंधन से जुड़े कामों की समीक्षा होगी। यह बैठक दोपहर 12 बजे से शुरू होनी है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में नगर निगमों को कुछ नये निर्देश दिये जा सकते हैं।

More from छत्तीसगढ़More posts in छत्तीसगढ़ »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *