भारत

सुनहरा अवसर: क्या आप भी शुरु करना चाहते हैं खुद का काम…मोदी सरकार की ये योजनाएं करती हैं मदद…जाने पूरी जानकारी

नई दिल्ली । केंद्र की मोदी सरकार ने बेरोजगारों युवाओं के लिए स्टार्ट अप जैसी कई योजनाओं की शुरुआत की है।  सरकार अपना बिजनेस शुरू करने के लिए कई योजनाओं के माध्यम से लोगों को रकम उपलब्ध करा रही है। इन योजनाओं का  लाभ लेकर आप भी काम- धंधा की शुरूआत कर सकते हैं।

यदि आप भी अब स्वयं का काम-धंधा शुरू करना चाहते हैं और आपके पास इसके लिए रकम नहीं है तो आप इन योजनाओं का फायदा उठा सकते हैं। देखिए मोदी सरकार के वो योजनाएं जो आपकी मदद कर सकती हैं।

मुद्रा योजना

मुद्रा योजना, स्वरोजगार शुरु करने वालों लोगों के लिए काफी उपयोगी है।  इस योजना में सरकार आसान शर्तों पर बेहद कम ब्याज  दर पर व्यापार  शुरू करने के लिए लोन देती है।  इसमें तीन श्रेणी शिशु, किशोर और तरुण कैटेगरी में ऋण दिया जाता है। एक जानकारी के मुताबिक वर्तमान समय तक इसमें 27.28 करोड़ अकाउंट खोले गए थे और इसमें 68 फीसदी महिलाओं को ऋण  दिया गया है।  इस योजना के जरिए  14.02 लाख करोड़ लोन के रूप में दिए गए हैं।

स्टैंड अप इंडिया योजना

इस योजना का उद्देश्य हर बैंक शाखा की ओर से कम से कम एक अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के महिला आवेदक  को नई परियोजना के लिए 10 लाख रु से 1 करोड़ रु लोन के रुप में दिए जाते हैं।  इससे सरकार महिलाओं, एससी, एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग के बीच उद्यमशीलता को बढ़ावा दे रही है। इस योजना के तहत  23827 करोड़ रु का ऋण दिया जा चुका है।

कौशल विकास योजना

कौशल विकास योजना के जरिए लोगों रोजगार के लिए लोन नहीं दिया जाता है, लेकिन उन्हें कौशल सिखाया जाता है। इस योजना के जरिए अलग अलग क्षेत्र  में वॉकेशनल प्रशिक्षण दिया जाता है, जिससे वो अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं।  इसके लिए कई कौशल विकास केंद्र भी खोल गए हैं.

क्रेडिट गारंटी फंड स्कीम

क्रेडिट गारंटी फंड स्कीम भी सरकार की महत्वपूर्ण योजना है।  इस योजना के जरिए सूक्ष्म,छोटे, और  मध्यम एंटरप्राइजेज के लिए ऋण दिया जाता है। इसमें गारंटी कवर भी दिया जाता है।  इस योजना के जरिए से अलग-अलग स्तर पर लोन दिए जाते हैं।

स्वनिधि योजना

सरकार हर वर्ग के लिए कोई ना कोई योजना लेकर आई है।  इस योजना के माध्यम से  देश के रेहड़ी और पटरी वालों ( फुटपाथ सड़क विक्रेताओं) को अपना स्वयं का काम नए सिरे से शुरू करने के लिए रकम दी जा रही है। इस योजना के जरिए छोटे बिजनेस के लिए 10000 रुपये तक का लोन दिया जाता है, जिसे एक साल के अंदर वापस करना होता है।

अन्य योजनाएं

सरकार ने स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की है, जिसमें वेंचर कैपिटल स्कीम, NCEF रिफाइनेंस स्कीम, डेयरी एंटप्रेन्योरशिप डवलपमेंट स्कीम, इंटरनेशनल कोऑपरेशन स्कीम जैसी योजनाएं  शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *