Press "Enter" to skip to content

बीयर के शौकीनों के लिए खुशखबरी: एक अप्रैल से कम हो जाएंगे चिल्ड बीयर के दाम…जानिए वजह

नोयडा। गर्मी में ठंडी बीयर का शौक रखने वालों के लिए अच्छे दिन आने वाले हैं, नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत के साथ ही यूपी में बीयर के दाम कम हो जाएंगे, इसका सबसे ज्यादा फायदा नोएडा, गाजियाबाद वालों को होगा क्योंकि अब उन्हें सस्ती बीयर के लिए दिल्ली तक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ में कल से लगेगी COVAXIN की डोज…राज्य सरकार ने दी अनुमति

1 अप्रैल से उत्तर प्रदेश में नई आबकारी नीति लागू हो जाएगी, 2021-22 वित्त वर्ष के लिए यूपी में बीयर के दाम 18-20 फीसदी कम हो जाएंगे, इसका मतलब ये होगा कि बीयर की कीमत तकरीबन 20 रुपये तक कम हो जाएगी। उत्तर प्रदेश में बीयर की 500 मिलीलीटर वाली कैन की कीमत 130 रुपये है, 650 मिलीलीटर वाली बोतल की कीमत 170 रुपये है, ब्रांड के हिसाब से कीमतों में अंतर भी है, लेकिन 130 रुपये से कम की कैन और 170 रुपये से कम की कोई बोतल नहीं है।

यह भी पढ़े: लाखों का ब्राउन शुगर जब्त: पुलिस ने महिला और एक युवक को गिरफ्तार कर भेजा जेल

कम कीमत की वजह से नोएडा और गाजियाबाद के लोग दिल्ली से बीयर खरीदना पसंद करते हैं, इस वजह से यूपी में बीयर विक्रेताओं के माल की खपत पूरी नहीं हो पाती है, सरकार की कोशिश है कि कीमतों में कमी करके तस्करी पर रोक लगाई जाए। बीयर की कीमतों में कमी के पीछे सबसे बड़ी वजह नई आबकारी नीति मानी जा रही है, नई आबकारी नीति के मुताबिक अब बीयर शॉप के लिए हर साल लाइसेंस नहीं लेना होगा, एक बार में 3 साल के लिए लाइसेंस जारी किया जाएगा, इसके अलावा बीयर के लाइसेंस में कोई बढ़ोतरी भी नहीं की गई है।

यह भी पढ़े: आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए 31 मार्च तक किए जाएंगे रजिस्ट्रेशन…सभी च्वाइस सेंटरों में मिल रही निशुल्क सेवा

अब बीयर के लाइसेंस देने की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन कर दी गई है, यूपी में बीयर की दुकान के लिए कारोबारी 20 हजार रुपये की फीस जमा करके आवेदन कर सकते हैं, लकी ड्रॉ में नाम निकलने पर नगर निगम क्षेत्र की दुकानों के लिए 70 हजार, नगर पालिका क्षेत्र की दुकानों के लिए 60 हजार और नगर पंचायत क्षेत्र के लिए 40 हजार रुपये की लाइसेंस फीस जमा करानी होती है।

यह भी पढ़े: बैग में 41 लाख 80 हजार रूपए की नगदी ले जा रहा था युवक…बस चैकिंग के दौरान पुलिस ने लिया हिरासत में

More from भारतMore posts in भारत »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *