छत्तीसगढ़

काम की खबर: सस्ते में सोना बेच रही है सरकार…निवेश करने का आखिरी दिन आज

सरकार ने जनता को सस्ती दरों पर सोना खरीदने का भी मौका दिया है। निवेशक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond) योजना के तहत बाजार मूल्य से काफी कम दाम में सोना खरीद सकते हैं। यह योजना सिर्फ पांच दिन के लिए (एक मार्च से पांच मार्च तक) खुली है। यानी आज इसका आखिरी दिन है। इसलिए अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो देर ना करें। इसकी बिक्री पर होने वाले लाभ पर आयकर नियमों के तहत छूट के साथ और कई लाभ मिलेंगे।

इसे भी पढ़े: कोरोना का टीका लगने के 17 घंटे बाद बुजुर्ग महिला की मौत…मचा हड़कंप…डॉक्टरों ने कही ये बात

सस्ते में सोना खरीदने का आखिरी दिन आज

योजना के तहत निवेश करने की अवधि एक मार्च फरवरी 2021 से शुरू हुई थी। पांच मार्च 2021 तक यह योजना खुली है। सरकार की ओर से योजना में निवेश के लिए पांच दिन तक का समय दिया गया है। सरकार की ओर से गोल्ड बॉन्ड में निवेश के लिए यह वित्त वर्ष 2020-21 की 12वीं श्रृंखला है। पहली श्रृंखला 20 अप्रैल 2020 से शुरू होकर 24 अप्रैल 2020 को समाप्त हुई थी।

इसे भी पढ़े: Indian Railway Recruitment 2021: 10वीं पास के लिए रेलवे में इन पदों पर निकली बंपर भर्ती…बिना एग्जाम के होगा सेलेक्शन…इस Direct Link से करें अप्लाई

इतनी है सोने की कीमत 

योजना के तहत आप 4,662 रुपये प्रति ग्राम पर सोना खरीद सकते हैं। यानी अगर आप 10 ग्राम सोने खरीदते है तो उसकी कीमत 46,620 रुपये बैठती है और गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट देती है। इसमें आवेदनों के लिए भुगतान ‘डिजिटल मोड’ के माध्यम से किया जाना है।

इसे भी पढ़े: सूचना आयुक्त के रिक्त पदों पर हुई नियुक्ति…राज्यपाल उइके ने पत्रकार धनवेंद्र जायसवाल और मनोज त्रिवेदी के नाम पर लगाई मुहर

होगा इतना फायदा

यानी ऑनलाइन सोना खरीदने पर निवेशकों को प्रति ग्राम सोना 4612 रुपये का पड़ेगा। ऐसे में आपको 46120 रुपये में 10 ग्राम सोना मिल जाएगा।

इसे भी पढ़े: तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप मामले में बड़ा खुलासा…इनकम टैक्स को मिले 350 करोड़ हेराफेरी के सबूत

इतना मिलेगा ब्याज

गोल्ड बॉन्ड की परिपक्वता अवधि आठ साल की होती है और इस पर सालाना 2.5 फीसदी का ब्याज मिलता है। बॉन्ड पर मिलने वाला ब्याज निवेशक के टैक्स स्लैब के अनुरूप कर योग्य होता है, लेकिन इस पर स्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) नहीं होती है।

इसे भी पढ़े: छत्तीसगढ़ के सरकारी अस्पतालों में की गई घटिया एंटीसेप्टिक सॉल्यूशन की सप्लाई…स्टेट लैब में जांच के बाद हुआ खुलासा

यहां से कर सकते हैं निवेश

स्वर्ण बॉन्ड बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एसएचसीआईएल), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (एनएसई और बीएसई) के माध्यम से बेचा जाएगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना नवंबर 2015 में शुरू की गई थी, जिसका उद्देश्य सोने की हाजिर मांग को कम करना था और सोने की खरीद के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले घरेलू बचत के एक हिस्से को वित्तीय बचत में तब्दील करने के लिए किया गया था।

इसे भी पढ़े: छत्तीसगढ़: आय से अधिक संपत्ति मामले में पुलिस अधिकारियों को मिली बड़ी राहत…हाईकोर्ट ने दर्ज FIR पर लगाई रोक

इतना होना चाहिए न्यूनतम निवेश 

बॉन्ड का अंकित मूल्य 999 शुद्धता वाले सोने के लिए पिछले तीन कामकाजी दिवसों में साधारण औसत बंद भाव (इंडिया बुलियन एंड जूलर्स एसोसिशन द्वारा प्रकाशित) मूल्य पर आधारित है। न्यूनतम स्वीकार्य निवेश एक ग्राम सोना और अधिकतम चार किलो प्रति व्यक्ति है। हिंदु अविभाजित परिवार के लिए भी निवेशक की अधिकतम सीमा चार किलो है। न्यास और उस तरह की इकाइयों के लिए यह 20 किलो है।

इसे भी पढ़े: सरकार को मिलेगा 101 फीसद और खर्च करेगी 102 फीसद

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *