Press "Enter" to skip to content

खुड़मुड़ा हत्याकांड को सुलझाने वाले पुलिसकर्मियों को गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने किया सम्मानित

रायपुर। दुर्ग जिले के खुड़मुड़ा हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने वाले पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने सोमवार को सम्मानित किया. अंधे खुड़मुड़ा हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने वाली पुलिस की टीम का हौसला अफजाई भी किया.

खुड़मुड़ा हत्याकांड सुलझा, इनाम देने की घोषणा

गृहमंत्री ने कहा कि पुलिस ने साबित कर दिया कि वो बेहतर काम कर रही है. उन्होंने दुर्ग रेंज के आईजी विवेकानंद सिन्हा, एसपी प्रशांत ठाकुर, एडिशनल एसपी रोहित झा सहित टीम को इस सफलता पर बधाई देते हुए 2 लाख रुपए इनाम और प्रशस्ति पत्र देने की घोषणा की.

सदन से लेकर विपक्ष तक चर्चा का विषय था

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि पूरे प्रदेश में यह मामला सदन से लेकर विपक्ष के बीच चर्चा का विषय बना हुआ था. पुलिस ने दोषियों को गिरफ्तार कर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल करने वालों का मुंह बंद कर दिया.

खुड़मुड़ा हत्याकांड में बेटा समेत 4 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने हत्या के आरोप में आरोपी योगेश सोनकर उर्फ महाकाल (34 वर्ष), नरेश सोनकर (49 वर्ष), बेटा गंगाराम सोनकर (35 वर्ष) और रोहित सोनकर उर्फ रोहित मोसा (35 वर्ष) को प्रथम दृष्टया अपराध सबूत पाए जाने पर गिरफ्तार किया था. अभी प्रकरण विवेचनाधीन है.

खुड़मुड़ा में परिवार के 4 लोगों की हत्या

बता दें कि 21 दिसंबर 2020 में खुड़मुड़ा में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी गई थी. मुखिया बालाराम सोनकर, उसकी पत्नी दुलारी बाई, बेटा रोहित सोनकर और बहू कीर्तिन बाई खून से लथपथ मिले थे. बालाराम और रोहित का शव भी बाडी स्थित पानी टंकी से बरामद हुआ था. जबकि नाती दुर्गेश घायल अवस्था में मिला था.

More from रायपुरMore posts in रायपुर »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *