छत्तीसगढ़भारतराज्य

फिर बढ़ रहा खतरा: कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर छत्तीसगढ़ में अलर्ट…एयरपोर्ट और बार्डर पर थर्मल स्क्रीनिंग के निर्देश

रायपुर में आए 525 मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं

महाराष्ट्र,पंजाब व केरल में कोरोना का नया स्ट्रेन मिलने के बाद छत्तीसगढ़ में अलर्ट जारी किया गया है। अब दूसरे राज्यों से आने वालों की कांटेक्ट ट्रेसिंग की जाएगी। साथ ही बाहर से आने वालों की मॉनीटरिंग की जाएगी। फोन पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेकर रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा।

इसे भी पढ़े: फोटोशूट मामला: CM भूपेश बघेल ने ली पुलिस, विमानन और इंटेलिजेंस अफसरों की बड़ी बैठक…नव-दंपत्ति की गलती को किया माफ़

हालांकि पिछले 7 दिन में रायपुर में मिले 525 मरीजों में किसी भी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिली है। अब इनकी ट्रैवल हिस्ट्री पता लगाई जाएगी। इस बीच सीएम भूपेश बघेल ने रायपुर एयरपोर्ट और महाराष्ट्र बार्डर पर कोरोना की थर्मल स्क्रीनिंग के निर्देश दिए हैं।

इसे भी पढ़े: बड़ा फैसला: 26 फरवरी को पूरे देश में बंद रहेंगे बाजार…जानिये वजह

प्रदेश में इन दिनों कोरोना केस उतार चढ़ाव की स्थिति में है। इसलिए प्रदेश में भी एहतियात के तौर जिलों को अतिरिक्त सावधानी बरतने के लिए कहा है। स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त संचालक डॉ. सुभाष पांडे के मुताबिक दूसरे राज्यों से आने वाले वालों का ब्योरा कांटेक्ट ट्रेसिंग के जरिए तैयार किया जाएगा। निगरानी की जाएगी कि बाहर से आने वाले कोरोना पॉजिटिव तो नहीं निकल रहे हैं।

इसे भी पढ़े: छत्तीसगढ़ हर्बल की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में एंट्री…दुबई में भी बना आकर्षण का केन्द्र

पिछले साल दिसंबर में ब्रिटेन में नया स्ट्रेन मिलने के बाद प्रदेश में लौटे 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि उनमें से किसी में भी पुणे की लैब में जांच के बाद नया स्ट्रेन नहीं पाया गया था।

इसे भी पढ़े: LIC ग्राहकों के लिए खुशखबरी: नया प्लान किया लांच…फिक्सड इनकम के साथ मिलेंगे कई फायदे
राजधानी में एक हफ्ते में 525 से ज्यादा केस
रायपुर में 15 फरवरी के बाद से 21 के बीच 550 से ज्यादा केस मिले हैं। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के एक्टिव सर्विलांस के तहत की जाने वाली कांटेक्ट ट्रेसिंग टीम के अधिकारियों के मुताबिक पिछले 7 दिन में किसी भी मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिली है। हालांकि नए सिरे से एक बार फिर इनसे पूछताछ की जा रही है कि कहीं किसी कोई ट्रैवल हिस्ट्री तो नहीं रही है, खासतौर पर महाराष्ट्र, पंजाब, केरल जैसे राज्यों से तो कोई नहीं लौटे हैं।

इसे भी पढ़े: छत्तीसगढ़ के किसान सावधान: ऑनलाइन बिक रहे ‘रेड लेडी’ के नकली बीज

महाराष्ट्र से सटे जिलों में कोरोना की ऐसी स्थिति

महाराष्ट्र से सटे प्रदेश के राजनांदगांव, कांकेर, नारायणपुर और बीजापुर जिलों में से राजनांदगांव में रविवार देर रात की स्थिति में 63, कांकेर में 29, नारायणपुर में 3 और बीजापुर में शून्य एक्टिव केस हैं। पिछले 21 दिन में इन जिलों में राजनांदगांव में 186, कांकेर में 63, नारायणपुर में 5 और बीजापुर में 4 नए पॉजिटिव मिले हैं।

इसे भी पढ़े: कांग्रेस शहर अध्यक्ष का अश्लील वीडियो धड़ल्ले से वायरल…पीसीसी चीफ मरकाम ने थमाया नोटिस…कांग्रेस शहर अध्यक्ष की पार्टी से छूट्टी तय…जानिए पूरा मामला

राहत : वायरल लोड भी घटा, फरवरी में ये ट्रेंड
डॉ. अरविंद नेरल के मुताबिक पिछले दो माह में कोरोना जांच करवा रहे लोगों में वायरल लोड कम देखा जा रहा है। यानी संक्रमण को फैलाने की क्षमता बिल्कुल ही कम नजर आ रही है।

इसे भी पढ़े: आधार कार्ड को लेकर जरुरी खबर: कहां और कितनी बार हुआ इस्तेमाल? ऐसे पाए पूरी जानकारी

जांच में कमी: 21 दिन में सिर्फ 4.30 लाख ही टेस्ट
प्रदेश में पिछले 21 दिन में कोरोना के 4.30 लाख टेस्ट हुए हैं। यानी हर दिन जांच का औसत करीब 20 हजार के आसपास है। हालांकि प्रदेश में जांच का टारगेट पहले 30 हजार जांच हर दिन करने का है।

इसे भी पढ़े: अपनी WhatsApp सेटिंग बदले तुरंत…कभी भी हो सकता है अकाउंट हैक…पढ़े कैसे आप अपने व्हाट्सएप को कर सकते हैं सुरक्षित

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *