Press "Enter" to skip to content

खरबूज – तरबूज व सब्जियों को नहीं मिल रहे खरीददार

बम्हनीडीह। लाकडाउन के चलते देवरहा के किसानों की समस्या बढ़ गई है। खरबूज, ककड़ी, करेला, टमाटर का भरपूर उत्पादन हुआ है मगर कोई खरीददार नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में फसल बाड़ी में नष्ट हो रही है।
जनपद पंचायत बम्हनीडीह के अंतर्गत ग्राम पंचायत देवरहा में अधिकांश लोग अपनी बाड़ी में खरबूज व साग सब्जी की खेती करते हैं। जनवरी महीने में खेती शुरू होती है और अप्रैल मई तक इसकी बिक्री बाजारों में होती है। किसान बाजार लेकर इसे बेचते हैं यहां से कई थोक व्यापारी भी आकर चांपा, कोरबा, सक्ती शिवरीनाायण ले जाते हैं। मगर अभी लाकडाउन होने के कारण वाहनों की आवाजाही बंद है। ऐसे में खरीददार बाड़ी तक नहीं पहुंच रहे हैं और फसल नष्ट हो रहा है और किसान चिंतित हैं। उन्हें खेती की लागत मूल्य भी नहीं मिल पा रही है। जिसके कारण किसानों को आर्थिक क्षति हो रही है। किसान रोहित पटेल ने बताया कि उसने सवा एकड़ में खरबूज की खेती की है और फसल तैयार हो गया है। मगर कोई भी खरीदी करने के लिए तैयार नहीं है। फसल बाड़ी में खराब हो रही है । इसके पहले भी लाकडाउन में काफी नुकसान हुआ था । इस बार भी नुकसान उठाना पड़ रहा है। छोटे लाल पटेल ने बताया कि उसने तीन एकड़ भूमि में खरबूज ककड़ी की खेती की है परन्तु लाकडाउन के कारण फसल को खरीदी के लिए ग्राहक नहीं पहुंच रहे हैं। जिसके कारण फसल खराब हो रही है। फसल को मवेशियों को खिला रहे हैैं। किसान फगुआ साहू ने बताया कि उसने डेढ़ एकड़ में खरबूज, करेला की खेती किया है और इस बार उत्पादन अन्य साल की अपेक्षा अधिक हुई है। आमदनी अच्छी होने पर वह इस साल घर बनाने को सोचा था मगर कोरोना ने उसकी मेहनत पर पानी फेर दिया।

More from जांजगीर चांपाMore posts in जांजगीर चांपा »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *