सक्ती जिले मे अंतिम चरण पर धान खरीदी: जिले मे 94% धान खरीदी हुआ पूरा…अधिकारियों का रहा अहम रोल

सक्ती। जिले में धान खरीदी अब अपने अंतिम चरण पर है। जिला सहित पूरे प्रदेश में यह पहली बार होगा जब धान संग्रहण केंद्रों में धान का एक तिनका भी नही गया है। इसका पूरा श्रेय जिले के अधिकारियों और मिलर्स को जाता है। सक्ती जिला गठन के बाद कर्मचारियों की कमी के बावजूद पूरी धान खरीदी को बिना किसी परेशानी के अपने मुकाम तक पहुंचाने में जिले के अधिकारियों का अहम रोल है। इस बात की चर्चा जिले से लेकर राज्य स्तर पर भी हो रही है।

गौरतलब है कि जिले के 119 उपार्जन केंद्रों मे कुल 3,72,000 मिट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य रखा गया है। जिसमे से सोमवार तक कुल 3,51,800 मिट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। जिले के 119 उपार्जन केंद्रों से कुल 2,87,761 मिट्रिक टन धान का उठाव मिलर्स द्वारा कर लिया गया है। साथ ही जिले के 82,733 किसानों को कुल 7,25,27,87,840 रुपए का भुगतान किया जा चुका है।

इस संबंध मे जिला विपणन अधिकारी सक्ती हीना खान ने बताया की जिले मे अबतक 94% धान खरीदी हो गई है। जिले के मिलर्स द्वारा धान खरीदी केंद्रों से 88% धान का उठाव कर लिया गया है। 92% डीओ जारी कर दिया गया है। समय सीमा मे धान का उठाव नही करने वाले मिलर्स को कलेक्टर द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किया जा रहा है।

You may have missed