रायगढ़

छत्तीसगढ़ मे सट्टा कारोबार पर पुलिस का शिकंजा: कारोबारी मयंक मित्तल की आत्महत्या के मामले में 3 खाईवाल गिरफ्तार…फरार आरोपी की तलाश जारी

रायगढ़। शहर के युवा व्यवसायी मयंक मित्तल की आत्महत्या के बाद पुलिस ने सट्टा खाईवालों पर बड़ी कार्रवाई की है। 4 आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज करते हुए पुलिस ने 3 की गिरफ्तारी कर ली है, जबकि एक आरोपी की तलाश जारी है। घटना कोतवाली थाना क्षेत्र में हुई थी।

बुधवार शाम को बालाजी डोर फर्म संचालक के कारोबारी बेटे मयंक मित्तल (34 वर्ष) ने खुदकुशी कर ली थी। जानकारी के मुताबिक, मयंक मित्तल ने क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाया था, जिसमें वो लाखों रुपए हार गए थे। पैसों की वसूली के लिए आरोपी लगातार परेशान कर रहे थे, साथ ही उन्हें धमकियां भी मिल रही थी। जिससे प्रताड़ित होकर 26 अक्टूबर की शाम मालधक्का रोड स्थित घर पर कारोबारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। इसी मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

कारोबारी मयंक मित्तल ने ले ली अपनी जान

एसपी अभिषेक मीणा के निर्देश पर टीआई कोतवाली शनिप रात्रे ने अपनी टीम के साथ जांच आगे बढ़ाई। उन्होंने मयंक मित्तल को रुपयों के लिए धमकी देने वाले आरोपी करण अग्रवाल उर्फ करण चौधरी, शहबाज खान, धर्मेन्द्र, मो. अफजल और अन्य के खिलाफ IPC की धारा 352, 384, 306, 34 के तहत केस दर्ज किया। पुलिस ने इनमें से करण, धर्मेंद्र और मो. अफजल को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से इन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया, वहीं चौथे आरोपी शहबाज की तलाश जारी है।

कोतवाली थाना पुलिस ने मृतक का मोबाइल जब्त कर उसमें सेव कॉल रिकॉर्ड की जांच कर रही है। वहीं मृतक और आरोपियों के बैंक अकाउंट की जांच भी जारी है। इस मामले में संलिप्त अन्य आरोपियों पर भी जल्द ही कार्रवाई हो सकती है।

फोन पर मिलती थी धमकी

घटना के संबंध में मृतक के चचेरे भाई अजय मित्तल ने गुरुवार को कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने मयंक की पत्नी और उसकी मां का बयान लिया थी। पत्नी और मां ने बताया था कि मयंक ने मई महीने में IPL क्रिकेट पर भी सट्टा लगाया था, जिसमें वो 50-60 लाख रुपए हार गया था। पैसे की वसूली के लिए करण चौधरी और शहबाज खान बार-बार फोन करता था। इतना ही नहीं वे घर में घुसकर जान से मारने की धमकी भी देते थे। जिससे मयंक काफी परेशान रहता था और आखिरकार उसने आत्मघाती कदम उठा लिया।

गुरुवार को शहरवासियों ने कारोबारी मयंक मित्तल की शवयात्रा में ‘मित्तल परिवार इंसाफ मांगता सटोरियों पर कार्रवाई चाहता’ लिखी हुई तख्ती पकड़े हुए थे। उन्होंने सटोरियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। लोगों ने पुलिस पर क्रिकेट सट्टे पर कोई कार्रवाई नहीं करने के आरोप लगाए थे।

Pradeep Sharma

SNN24 NEWS EDITOR

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button