Press "Enter" to skip to content

सक्ती में अवैध प्लाटिंग की रेड कारपेट बिकने के लिए सज कर तैयार…जिम्मेदार अधिकारी नही ले रहे अवैध कच्ची सड़क उखाड़ने में रुचि।

सक्ती। सक्ती मे अवैध प्लाटिंग की रेड कारपेट बिकने के लिए सज कर तैयार है। इंतजार है तो मार्च महीने के लास्ट इंडिग का ।क्योकि मार्च के लास्ट महीने मे रजिस्ट्री की मारा मारी होती है, अप्रैल माह से नए मूल्य आ जाएंगे। पिछले वर्ष कोरोना की वजह से शासन ने रेट नहीं बढ़ाया था।

ज्ञात हो कि सोंठी गेवाडिन कालोनी और सक्ती पेट्रोल पंप के सामने बिछी है अवैध प्लाटिंग की रेड कारपेट –

शक्ति से लगे ग्राम सोंठी जिसे गेवाडिन कॉलोनी के नाम से जाना जाता है यहां झुलकदम रोड से रेलवे स्टेशन तक कच्ची सड़कों को बना कर करोड़ों रुपए के सौदे हो चुके हैं,इसी प्रकार पेट्रोल पंप के सामने भी कच्ची सड़कों का जाल बिछाकर प्लाट काटे गए है।

कलेक्टर और एसडीएम के सख्त रवैए की वजह से रुकी हुई है रजिस्ट्रियां –

उक्त अवैध प्लाटों के करोड़ों रुपयों मे सौदे हो चुके हैं लेकिन कलेक्टर और सक्ती एसडीएम बी.एस.मरकाम के सख्ती के चलते पटवारी बिक्री का कागजात नहीं बना रहे हैं अब भूमाफियाओं को मार्च लास्ट एंडिंग का इंतजार है, जिसमें शासन अपने आय के लिए कुछ छूट दे दे।

भू माफियाओं ने लगवाई है जनहित याचिकाएं –

हाई कोर्ट बिलासपुर मे पेट्रोल पंप के सामने अवैध प्लाटिंग को लेकर जगदीश बंसल ने अपने साले जयप्रकाश से एक जनहित याचिका, क्रमांक डब्लू पी पी आई एल 4/2021 लगाई है, वहीं गेवाडिन कॉलोनी के तालाब और निर्माण को लेकर रोहित कुमार राठौर ने जनहित याचिका, क्रमांक डब्लू पी पी आई एल 16/2021 लगाई है।

राजस्व विभाग अवैध प्लाटिंग की कच्ची सड़कों को देख कर भी अनजान बने हुए है-

जिले के अन्य जगहों पर अवैध प्लाटिंग की कच्ची सड़कों को उखाड़ा जा रहा है, लेकिन सक्ती का राजस्व अमला देख कर भी कच्ची सड़कों को हटाने मे नाकाम साबित हो रही है।

More from जांजगीर चांपाMore posts in जांजगीर चांपा »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *