सड़क हादसा: रेत से भरे ट्रैक्टर की चपेट में आए 2 भाई…1 की मौत,दूसरा गंभीर

सड़क हादसा: रेत भरे ट्रैक्टर की चपेट में आए 2 भाई, 1 की मौत, दूसरा गंभीर
  • कोनी-बिरकोना मोड़ के पास हुआ हादसा, स्कूटी से स्कूल जा रहे थे

स्कूल जा रहे दो भाई शनिवार की सुबह रेत भरे ट्रैक्टर की चपेट में आ गए। टक्कर से एक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे सिम्स में भर्ती कराया गया है। घटना कोनी बिरकोना मार्ग पर हनुमान मंदिर के पास हुई।

ग्राम नगोई (बैमा) निवासी प्रांजल मिश्रा पिता शांति प्रकाश मिश्रा 17 वर्ष रमतला स्थित आधारशिला विद्या मंदिर में कक्षा 11वीं का छात्र था। छोटा भाई प्रखर मिश्रा भी इसी स्कूल में पढ़ता है। शनिवार की सुबह दोनों स्कूटी से स्कूल जाने के लिए घर से निकले थे। करीब 11 बजे बिरकोना-कोनी मार्ग पर रमतला की ओर जैसे ही मुड़े सामने से रेत भरकर आ रहे ट्रैक्टर ने स्कूटी को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में दोनों गाड़ी से गिर गए और प्रांजल ट्रैक्टर के पहिए के नीचे आ गया, मौके पर ही मौत हो गई। प्रखर को गंभीर चोंटें आईं। स्कूल में घटना की जानकारी मिली तो मौके पर बस भेजकर दोनों को सिम्स भेजा गया। प्रखर का यहां इलाज चल रहा है। प्रांजल को मृत घोषित करने के बाद उसके शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कोनी पुलिस ने ट्रैक्टर को जब्त कर आरोपी चालक के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है।

अटल ने कहा- कार्रवाई की मांग करेंगे

घटना की जानकारी मिलने के बाद पीसीसी उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव मौके पर पहुंच गए। मृतक के परिजनों से मुलाकात कर रेत चोरों के खिलाफ सख्त कदम उठाने की बात कही। आर्थिक सहायता का आश्वासन दिया। अटल ने कहा कि रेत उत्खनन क्षेत्र से जुड़े गांव के सरपंचों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान अधिकारियों को भी बुलाया जाएगा। सारी जानकारी के बाद पूरी तैयारी के साथ रेत चोरों के खिलाफ आंदोलन करेंगे। अवैध उत्खनन और परिवहन के साथ रेतचोरों को माफ नहीं किया जाएगा। जिला खनिज अधिकारी को पत्र लिखकर बिलासपुर जिले में सरकार द्वारा ठेके पर दिए गए रेत खदानों की संपूर्ण जानकारी मांगी है।

रेत का अवैध परिवहन

कोनी टीआई आरएन यादव के अनुसार ट्रैक्टर सेंदरी से रेत भरकर शहर की ओर आने के लिए निकला था। पुलिस से बचने के लिए ड्राइवर ने इसे कोनी थाना से पहले ही रमतला-कोनी रोड पर मोड़ दिया। रेत का अवैध परिवहन किया जा रहा, पुलिस से बचने गाड़ी बाइपास से जा रही थी।

सुनते ही मां की तबियत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

इस हादसे की सूचना जैसे ही प्रांजल की मां को मिली, उनकी तबियत बिगड़ गई। उन्हें घर के लोग सिम्स लेकर आए। उन्हें भी यहां भर्ती कराया गया है।​​​​​​​

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed