कांकेर

दो तथाकथित डाक्टरों के क्लीनिक पर SDM की टीम ने मारा छापा…एक अवैध पैथोलब पर भी सील की कार्यवाही

भानुप्रतापपुर। अनुविभाग भानुप्रतापपुर के प्रशासनिक अमले ने विकासखंड के विभिन्ना ग्रामों में दबिश देकर अवैध रूप से कार्य का रहे झोलाछाप डाक्टरों व बिना लायसेंस के संचालित पैथालाजी लैब पर कार्यवाही की। एसडीएम प्रेमलता मंडावी के नेतृत्व में तहसीलदार आनंद राम नेताम, नायब तहसीलदार मोक्षदा देवांगन व अरुणिमा टोप्पो तथा बीएमओ अखिलेश धु्रव की टीम ने 22 मार्च को ग्राम भानबेड़ा के दो तथाकथित डाक्टरों के क्लीनिक पर छापा मारा। यहां से उन्हें काफी मात्रा में अंग्रेजी दवाईयां इंजेक्शन आदि प्राप्त हुआ है।

इन दोनों तथाकथित डाक्टरों आशुतोष राहा तथा नारायण चंद विश्वास के पास मेडिकल प्रेक्टिस के लिए कोई अधिकृत लायसेंस नहीं होने के कारण इन दोनों पर कार्रवाई करते हुए नारायण चंद के क्लीनिक को सील कर दिया गया। वहीं आशुतोष राहा के क्लीनिक के साथ उसका निवास होने की वजह से उसे फिलहाल बंद कर दिया है। यह दोनों क्लीनिक भानबेडा के मुख्य चौक के पास ही अगल बगल संचालित की जा रही थी।

बीएमओ डाक्टर ध्रुव ने बताया कि इन दोनों के पास कोई जरूरी कागजात नहीं मिले, जिनसे यह पुष्टि हो कि यह दोनों मेडिकल प्रेक्टिस के लिए अधिकृत हैं। दोनों ने अल्टरनेटिव मेडिसीन सिस्टम 2005 व उससे पहले के कागजात पेश किए परंतु यह मेडिकल एसोसिएशन द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है। फिलहाल दोनों क्लीनिकों से मिली दवाइयों को जप्त कर लिया गया है व दोनों को हिदायत दी गई है कि यह कार्य तुरंत बंद करें।

इन दोनों पर नियमानुसार आगे कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा ग्राम केंवटी में भवानी मानकर के पैथालाजी लैब को भी टीम के द्वारा सील किया गया है। इसके पास से भी पैथालाजी लैब चलाने की अनुमति से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं मिले हैं। टीम के द्वारा इसे भी लैब पुन: नहीं चलाने की हिदायत दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *