Press "Enter" to skip to content

करेंट से पहले झटका: ग्राहकों से 1,700 रूपए वसूली…नहीं दे रहे रसीद…जानिए पूरा माजरा

बिलासपुर। बिजली चोरी व हादसे पर अंकुश लगाने के लिए जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में करंट प्रवाहित तार को हटाकर उसकी जगह केबल का वायर बिछाया जा रहा है। इस दौरान बकाया और नए मीटर भी लगाने हैं। विद्वयुत वितरण कंपनी के अधिकारी इसकी आड़ में एक ग्राहक से 17 सौ रुपये वसूल कर रहे हैं। ग्राहकों को रसीद नहीं देने से साफ है कि यह राशि सीधे अधिकारियों की जेबों में जा रही है।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ में कल से लगेगी COVAXIN की डोज…राज्य सरकार ने दी अनुमति

जिलेभर में बिजली खंभों में तार की जगह केबल वायर लगाया जा रहा है। इसी के तहत बिल्हा ब्लाक के कुछ गांवों में इन दिनों काम चल रहा है। इस योजना के तहत जिन ग्रामीणों का बकाया है उनसे वसूली करनी है। साथ ही मीटर लगाने का भी काम चल रहा है।

यह भी पढ़े: वन्य जीव तस्करों के बड़े नेटवर्क का हुआ भंडाफोड़…फरार आरोपी गिरफ्तार…शासकीय शाला में है पदस्थ

नियम के अनुसार महा गरीबी रेखा के नीचे जीवन—यापन करने वालों को फ्री में कनेक्शन देना है। इसके बाद वाट के हिसाब से शुल्क लेना है। मसलन, 500 वाट के लिए हजार रुपये निर्धारित है। इसकी आड़ में विद्वयुत वितरण कंपनी के अधिकारी अपनी जेबें गर्म कर रहे हैं।

यह भी पढ़े: लाखों का ब्राउन शुगर जब्त: पुलिस ने महिला और एक युवक को गिरफ्तार कर भेजा जेल

बिल्हा ब्लाक के ग्राम गुमा और बिटकुली में दर्जनों ग्रामीणों से नया मीटर लगाने के एवज में 15—15 सौ रुपये वसूल कर रहे हैं। इतना ही नहीं कनेक्शन जोड़ने के लिए दो सौ रुपये अलग से लिए जा रहे हैं। इसके बदले उन्हें रसीद नहीं दी जा रही है। जाहिर है यह राशि सीधे अधिकारियों की जेबों में जा रही है।

यह भी पढ़े: बैग में 41 लाख 80 हजार रूपए की नगदी ले जा रहा था युवक…बस चैकिंग के दौरान पुलिस ने लिया हिरासत में

पैसे लिए, नहीं मिली रसीद

बिल्हा ब्लाक के ग्राम गुमा और झाल निवासी संतोष लहरे, गौतम लहरे और ईश्वर गायकवाड़ ने बताया कि एक सप्ताह पूर्व बिजली विभाग के अधिकारी मीटर लगाने के नाम पर पहले 15 सौ रुपये जमा कराए। इसके बाद कनेक्शन जोड़ने के लिए 2 सौ रुपये लिए।

यह भी पढ़े: आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए 31 मार्च तक किए जाएंगे रजिस्ट्रेशन…सभी च्वाइस सेंटरों में मिल रही निशुल्क सेवा

रसीद मांगने पर कहा गया कि इसकी कोई जरूरत नहीं है। दो—तीन दिनों के भीतर नया मीटर लग जाएगा। इसी तरह गांव के अन्य लोगों ने भी इसकी शिकायत विद्वयुत विभाग के अधिकारियों से की है, लेकिन अब तक किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हो सकी है।

यह भी पढ़े: Research On Human Face: चेहरा नहीं, देखने वाले का नजरिया बोलता है

ऐसे हुआ गड़बड़ी का पर्दाफाश

बीते दिनों गांव के सरपंच प्रतिनिधि जैनेंद्र कुमार गेंदले के पास कुछ लोग शिकायत करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने बताया कि मीटर लगाने के नाम पर पैसे लिए जा रहे हैं। जब सरपंच प्रतिनिधि ने अन्य ग्रामीणों से बात की तो पूरे गांव में हुई इस गड़बड़ी का पता चला। इस संबंध में अधिकारियों से भी जानकारी ली गई, लेकिन उन्होंने वसूली की बात से साफ इन्कार कर दिए।

यह भी पढ़े: Weather In Chhattisgarh: बेमौसम बारिश से सब्जियों को नुकसान…गिरा तापमान…कई इलाकों में छाए रहेंगे बादल

रसीद नहीं देना गंभीर मामला है। इस संबंध में मातहतों से पूछताछ की जाएगी। दोषी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई करेंगे – अभी कश्यप, कनिष्ठ यंत्री बिल्हा बिलासपुर

सब डिवीजन में तार की जगह केबल लगाया जा रहा है। मीटर के एवज में पैसे की मांग गलत है। गांव जाकर पीड़ितों से इस संबंध में जानकारी ली जाएगी – चुम्मन सिंह ठाकुर, जेई, बरतोरी बिल्हा बिलासपुर

यह भी पढ़े: बाजार में सीमेंट की हुई किल्लत…बढ़ने लगे दाम

More from बिलासपुरMore posts in बिलासपुर »

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *