चोरी का आरोपी साल भर बाद हुआ गिरफ्तार…लेकिन पुलिस के हाथ नहीं लगे 23 लाख के सोने के जेवरात

रायपुर। राजधानी में साल भर पहले अनूप ज्वेलर्स के कारखाने से 23 लाख के सोने के जेवर पार हो गए थे. इस मामले में पुलिस एक आरोपी को पश्चिम बंगाल के हुगली से गिरफ्तार किया है. बाकी अन्य आरोपी फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है. लेकिन पुलिस को अभी तक 23 लाख रुपए के सोने का जेवर बरामद नहीं हुआ है.

इसे भी पढ़े: रायपुर के उरकुरा स्थित सिद्धि विनायक हॉस्पिटल के डॉक्टर गोविंद यादव के ऊपर लगा बड़ा आरोप…मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ कर ऐंठता है मोटी रकम…स्वास्थ्य मंत्री तक पहुँची शिकायत

कोतवाली थाना प्रभारी मोहसीन ने बताया कि 17 दिसंबर 2019 को महावीर चंद बरडिया ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसमें कहा था कि उसका कारीगर विप्लव सामंत उसके कारखाने के अन्य साथियों को खाना में नशे की गोली खिलाकर दुकान से करीब 23 लाख 10 हजार रुपए का सोने का जेवर चुरा ले गया है. पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपी विप्लव सामंत घटना के 5 दिन पहले अनूप जेवलर्स में काम करने आया था. जिसके बाद उसने चोरी की योजना बनाकर घटना की अंजाम दिया है.

इसे भी पढ़े: वित्त सेवा संवर्ग के 3 दर्जन से अधिक अधिकारी क्रमोन्नत…कई अफसरों के तबादले भी…राज्य सरकार ने जारी किया आदेश।

पुलिस ने मामले की जांच, तो पता चला कि आरोपी विप्लव पश्चिम बंगाल के हुगली में रह रहा है. जिसके बाद 4 सदस्यीय टीम भेजकर आरोपी के घर पर दबिश देकर उसे गिरफ्तार किया गया है. आरोपी से प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि राजेश अली और शेख राजू नाम के व्यक्तियों के लिए ये काम करता है. उन्हीं लोगों ने रायपुर में चोरी की योजना बनाई थी. जिसके बाद ये रायपुर में काम करने आया था. इसे इस चोरी के लिए केवल 50 हजार रुपए ही मिले थे.

इसे भी पढ़े: 11 अफसरों का तबादला: बिलासपुर,दुर्ग सहित कई निगमों के कमिश्नर बदले…कई डिप्टी कलेक्टर भी बदले…राज्य सरकार ने जारी किया आदेश…देखिए पूरी लिस्ट।

आरोपी के निशानदेही पर अन्य आरोपियों के ठिकानों पर दबिश दी गई, लेकिन वहां से आरोपी फरार हो चुके थे. राजेश और राजू ने इससे पूरा सोना ले लिया था. इसीलिए आरोपी से अब तक चोरी का कुछ भी माल बरामद नहीं हो पाया है. इस मामले में आरोपी से आगे की पूछताछ की जा रही है.

इसे भी पढ़े: DGP अवस्थी के निलंबन आदेश के खिलाफ DSP ने हाईकोर्ट में दायर की थी याचिका…हाईकोर्ट का आदेश…“तत्काल बहाल करें”…जानिए पूरा मामला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed